Brijesh Yadav
Solar Eclipse 2019: First Solar Eclipse on 6th jan 2019, Know about Grahan Time And Sutak - Jyotish Nidan in Hindi

नई दिल्ली। साल 2019 में साल के पहले महीने में 5 और 6 जनवरी को साल का पहला सूर्य ग्रहण पड़ रहा है। हालांकि यह ग्रहण भारत में नजर नहीं आएगा। साल 2019 के शुरूआत के बाद पहले हफ्ते में ही साल का पहला ग्रहण है। भारतीय समयसीमा अनुसार, 5 जनवरी की आधी रात अर्थात 6 जनवरी की भोर में 5 बजकर 4 मिनट पर शुरू होगा जो कि सुबह के ही 09 बजकर 18 मिनट तक प्रभावी रहेगा।

साल 2019 के पहले महीने में ही 2 ग्रहण लगने वाले हैं। वहीं इस साल तीन सूर्य ग्रहण और दो चंद्र ग्रहण लगेंगे। बता दें 5 जनवरी की आधी रात से ही ये ग्रहण 6 जनवरी तक रहेगा। साल का पहला सूर्य ग्रहण आंशिक सूर्य ग्रहण होगा, जो कि भारत में दिखाई नहीं देगा, लेकिन अगर आप इसे देखना चाहते हैं तो आपको उत्तर-पूर्व एशिया और प्रशांत महासागर का रुख करना होगा।

वहीं इसी माह की 21 तारीख को लगने वाले पहले पूर्ण चंद्रग्रहण को भी भारत में नहीं देखा जा सकेगा क्योंकि चंद्र ग्रहण के समय भारत में दिन का समय रहेगा और उस वक्त धूप खिली रहेगी। शास्त्रों के अनुसार इस समय किसी भी शुभ कार्य के लिए अच्छे दिन नहीं हैं तो ऐसे समय में लगने वाला सूर्य ग्रहण भी शुभ नहीं माना जा रहा है। ऐसा मान्यता है कि सूर्य ग्रहण के 12 घंटे सूतक लग जाता है जो शुभ नहीं होता इसी वजह से ग्रहण के 12 घंटे पहले ही मंदिरों के कपाट बंद कर दिए जाते हैं।

क्या है आशंकि सूर्यग्रहण…

वैज्ञानिकों के मुताबिक जब सूर्य और पृथ्वी के बीच से जब चंद्रमा होकर गुजरता है तो सूर्य आंशिक या पूर्ण रूप से छिप जाता है, इस स्थिति को सूर्य ग्रहण कहते हैं।

दरअसल, पृथ्वी सूर्य का परिक्रमा करती है। ऐसे में जब चंद्रमा जब कभी सूरज और पृथ्वी के बीच आ जाता है तो इससे पृथ्वी पर पडऩे वाली सूर्य की रोशनी कुछ देर के लिए ढंक जाती है और पृथ्वी तक नहीं पहुंच पाती है।

कहां-कहां देखा जा सकेगा सूर्य ग्रहण…

अगर आप साल का पहला सूर्यग्रहण देखना चाहते हैं तो इसके लिए आपको उत्तर पूर्वी एशिया और पैसिफिक देशों के लिए रुख करना होगा। ये सूर्य ग्रहण मंगोलिया, कोरिया, जापान, ताइवान, चाइना और रूस के पूर्वी छोर में सूर्य ग्रहण देख सकेंगे। इसके अलावा आप अमेरिका के पश्चिमी हिस्से में भी ग्रहण देख सकेंगे।