शहीद भगवती प्रसाद सिंह की पत्नी ने किया महोत्सव का शुभारंभ

Devendra Mishra
आजमगढ़। विश्राम सिंह मैदान अतरौलिया में आयोजित बूढऩपुर महोत्सव का शहीद भगवती प्रसाद सिंह की पत्नी ललिता देवी द्वारा जिलाधिकारी नागेन्द्र प्रसाद सिंह की उपस्थिति में दीप प्रज्जवलित तथा फीता काट कर शुभारम्भ किया गया। महोत्सव के मंच का शुभारम्भ मंत्रोच्चारण के साथ प्रारम्भ हुआ। प्राथमिक विद्यालय पिपरी के छात्राओं द्वारा वंन्दना गीत, किसान बालिका इण्टर कालेज बूढऩपुर के छात्राओं द्वारा स्वागत गीत की प्रस्तुति की गयी। जो अत्यन्त ही मनमोहक रहा। जिलाधिकारी द्वारा शहीद भगवती प्रसाद सिंह की पत्नी ललिता देवी तथा अन्य शहीद परिवार को शाल तथा तुलसी की पौधा देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने अपने सम्बोधन में कहा कि यह बूढऩपुर का महोत्सव जनता का, जनता के लिए, जनता के द्वारा आयोजित महोत्सव है। उन्होने कहा कि आज हमें अपने सांस्कृतिक विरासतों को संजों कर रखने की जरूरत है। जिसे हमारी आने वाली पीढिय़ां उसे जाने। इस तरह के कार्यक्रम आयोजित कराते रहने की आवश्यकता है। उन्होने बताया कि जो थीम सांग बनाया गया है वह सगड़ी तहसील के निवासी मनोज यादव द्वारा बनाया गया है। इस थीम संाग में म्यूजिक एआर रहमान, संगीतकार बृजेश सान्डिल तथा मिनल जैन की है। उन्होने कहा कि इस थीम सांग पर बच्चों का ग्रुप डांस भी कराया जाय जिससे इस थीम संाग के माध्यम से लोग अपने आजमगढ़ के बारे में जानकारी हो। इसी के साथ ही जिलाधिकारी द्वारा विश्राम सिंह मैदान अतरौलिया में आयोजित बालीबाल तथा खो-खो टीम के प्रत्येक सदस्यों से परिचय प्राप्त कर ंबालीबाल तथा खो-खो के टीम कैप्टन द्वारा प्रारम्भ कराया गया। बालीबाल में बल्लू बेल पब्लिक स्कूल अतरौलिया, पटेल मेमोरियल इण्टर कालेज तथा खो-खो पूर्व माध्यमिक विद्यालय पासीपुर बूढऩपुर तथा पूर्व माध्यमिक विद्यालय रामपुर खास अतरौलिया के बीच खेला गया। तत्पश्चात प्रांगण में लगायो गये एनआरएलएम के अन्तर्गत स्वंय सेवा महिलाओं द्वारा लगाये गये स्टाल में सिलाई-कड़ाई, मनरेगा का कार्य पर सीआईवी निर्माण, बाल विकास पुष्टाहार विभाग, टै्रफिक पुलिस के स्टाल तथा जीजीआईसी अतरौलिया की छात्राओं के हस्त शिल्प प्रदर्शनी का जिलाधिकारी द्वारा अवलोकन किया गया। बूढऩपुर महोत्सव के कार्यक्रम विश्राम सिंह मैदान अतरौलिया तथा राजकीय बालिका इण्टर कालेज में हुए, जिसमें रंगोली, ग्रुप डांस, ग्रुप सांग, बाल संसद, युवा संसद, निबन्ध, चित्रकला, नाटक, मेंहदी, वाद-विवाद, अन्त्याक्षरी, कबड्डी, खो-खो, रस्साकसी, एथलेटिक्स आदि का कार्यक्रम हुआ। कार्यक्रम का संचालन रश्मि सिंह तथा सरिता द्वारा किया गया। इस अवसर पर बूढऩपुर के प्रबुद्ध नागरिकगण तथा आम जनमानस उपस्थित रहे।