Lack of competitions challenging for those who have not qualified - Sports News in Hindi
shanti group

SURAJ RAI

नई दिल्ली । एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता पहलवान बजरंग पूनिया ने कहा है कि जिन पहलवानों ने अब तक टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई नहीं किया है, उनके लिए अब यह और अधिक चुनौतीपूर्ण होने वाली है क्योंकि इस समय टूर्नामेंट नहीं हो रहे हैं। बजरंग इस समय कर्नाटक के बेलारी में इंस्पायर इंस्टिट्यूड ऑफ स्पोर्ट्स (आईआईएस) में जॉर्जियाई कोच शाको बेंटिनिडिस के साथ अभ्यास कर रहे हैं।

बजरंग ने आईआईएस की दूसरी वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित एक वेबिनार में कहा, “मेरा एक ही स्पष्ट लक्ष्य है कि मुझे ओलंपिक में अच्छा प्रदर्शन करना है। यह उन लोगों के लिए अधिक चुनौतीपूर्ण है, जिन्होंने अभी तक क्वॉलीफाई नहीं किया है। मैं नहीं कह सकता कि मेरे प्रदर्शन में सुधार हुआ है या नहीं क्योंकि कोई प्रतियोगिता नहीं हो रही है।”

उन्होंने कहा, “हम सभी लॉकडाउन में हैं, लेकिन मैंने एक दिन भी अभ्यास नहीं छोड़ा। बहुत कुछ इस बात पर भी निर्भर करता है कि आपके आस पास कैसे लोग हैं। वो आपको प्रेरित करते हैं या नहीं। मेरे आसपास अच्छे लोग हैं।”

बेंटिनिडिस देश में पहले लॉकडाउन के समय जॉर्जिया चले गए थे, लेकिन अब वह इस महीने की शुरूआत में वापस आ गए हैं। बरजंग ने कहा कि बेंटिनिडिस की इस प्रतिबद्धता के लिए वह उनका आभारी हैं।

बजरंग ने कहा, “भारत में बढ़ते मामलों के बावजूद बेंटिनिडिस का भारत वापस आने के लिए बहुत धन्यवाद देना चाहता हूं। उन्होंने मेरे लिए एक रणनीति तैयार की है और मुझे सुझाव दिया है कि मुझे अपनी तकनीक पर काम करने की जरूरत है क्योंकि प्रतिद्वंद्वी मेरे खेल को देख चुके हैं।